You are here

सावधान! इस जगह भूलकर भी मत बनाना शारीरिक संबंध नही तो होगा विनाश

देखा जाए तो वास्तुशास्त्र में व्यक्ति के जीवन जीने के कई सिद्धांतों का उल्लेख किया गया है जो व्यक्ति को सही दिशा में जीवन जीने की दृष्टि प्रदान करता है. इसी के अनुसार ये माना गया है कि किसी भी इंसान को शारीरिक संबंध अपनी मनमर्जी से कही भी नहीं बनाने चाहिए, क्योंकि ऐसा करना न केवल अशुभ माना जाता है बल्कि ऐसा करने से कुल का नाश होना भी संभव होता है.

वास्तुशास्त्र के जानकारों की माने तो अगर कोई दंपत्ति कुछ अनिवार्य जगहों पर संबंध बनाती है तो उससे उनके बीच अनबन होने लगती है. इससे न केवल दोनों के रिश्ते खराब होने की संभावना बढ़ जाती है बल्कि कई बार कुछ ऐसा भी हो जाता है जो वाकई हैरान करने वाला होता है. इसलिए ही चलिए जाने कि आखिर वो कौन-सी जगहें होती है जहाँ शारीरिक संबंध बनाना होता है अशुभ-

1. पवित्र नदी

शास्त्रों की माने तो किसी भी जोड़े को नदी के पास शारीरिक संबंध नही बनाने चाहिए क्योंकि ऐसा करना हमेशा से ही विध्वंसकारी माना गया हैं. अगर याद हो तो ऋषि परासर और सत्यवती के ऐसे संबंधो के चलते ही महाभारत के युद्ध ने जन्म लिया था.

2. अग्नि के पास

अग्नि को हिंदू धर्म में देवताओं का पवित्र रूप माना गया है. इसीलिए ही शादी में भी व्यक्ति इसी पवित्र अग्नि को साक्षी मानकर इसके सात फेरे लेता  है. मान्यता है कि अग्नि के पास शारीरिक संबंध बनाना न केवल अशुभ होता है बल्कि ऐसा करने वाला पाप का भागीदारी भी बन जाता है.

3. ब्राहमण के पास

शास्त्रों के अनुसार यदि कही आसपास कोई ऋषि, ब्राहमण या कोई गुरु हों तो ऐसी स्थिति में किसी को भी शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहिए क्योंकि ऐसा करना उनके साथ-साथ भगवान का भी अपमान माना जाता है.

4. मंदिर परिसर

वास्तु में साफ़-साफ़ उल्लेख है कि मंदिर परिसर में शरीरिक संबंध बनाना महापाप होता है. इसी के साथ किसी को भी नवजात के पास भी शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए. दूसरों के घर पर भी शारीरिक संबंध बनाना हमेशा से ही गलत बताया गया है.

5. कब्र

ये मान्यता है कि कभी भी किसी कब्र के पास शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए क्योंकि ऐसा करना अशुभ तो होता ही है और इसके साथ-साथ दांपत्यजीवन भी तबाह होता है.

Top