You are here

महिला टीचर ने किया ये शर्मनाक काम Video हो रहा है वायरल अब तक 1 करोड़ से भी ज्यादा लोग देख चुके हैं

दोस्तों बचपन से ये हमारे माता-पिता द्वारा यही बताया जाता है कि अब से स्कूल ही तुम्हारा दूसरा घर है. उसके माँ-बाप अपने बच्चे को एक अच्छे और सुनहरे भविष्य का सपना लिए उसे एक स्कूल में भेजते हैं. एक इंसान के लिए उसका गुरु जो उसे शिक्षा देता है सबसे महत्वपूर्ण होता है. किसी भी शिक्षक के लिए उसका गुरु किसी भगवान से कम नहीं होता और अगर यही गुरु हमारे भविष्य के साथ खिलवाड़ करने लगे तो सोचिये क्या होगा ? आज हम आपको इसी से जुड़े एक ऐसे मुद्दे के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे देखकर आप भी दंग रह जाएँगे.

महिला टीचर की ये हरकत कैमरे में हुई रिकॉर्ड (youtube)

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है ये वीडियो 

बता दें कि इन दिनों सोशल मीडिया पर एक ऐसी वीडियो वायरल हो रही है जिसे अब तक 1 करोड़ से भी ज्यादा लोग देख चुके हैं. ये वीडियो राजकीय माध्यमिक विद्यालय नारवा जोधपुर का है जो इन दिनों बड़ी तेज़ी से वायरल हो रही है. इस वीडियो को जब आप देखेंगे तो इसमें आपको एक महिला टीचर और प्रिंसिपल आपस में बात करते हुए नज़र आएँगे. ऐसा कहा जा रहा है कि इस वीडियो में दिख रही महिला टीचर हमेशा देरी से स्कूल आती थी. उनकी इसी हरकत को सुधारने के लिए प्रिंसिपल ने फैसला लिया कि वो उन्हें उनकी गलती का एहसास करवाएँगे. जिसके बाद उन्होंने ये वीडियो बनाया.

लेट आने पर प्रिंसिपल से की बहस (image source : youtube)

लेट होने पर प्रिंसिपल से की बहस 

जब आप इस वीडियो को देखेंगे तो आपको भी पता चलेगा कि कैसे एक महिला शिक्षक स्कूल देरी से आती है. उसके बाद अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए रजिस्टर मांगती है, पर प्रधानाद्यापक उन्हें रजिस्टर नहीं देते. वहीं मौजूद एक व्यक्ति  इस वीडियो को रिकॉर्ड करता है, अगर आप वीडियो देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि प्रधानाद्यापक जी कितनी संयमित भाषा का प्रयोग कर रहे हैं लेकिन महिला शिक्षक को इस बात का पता नहीं होता कि उसकी बातों की रिकॉर्डिंग हो रही है इसलिए वह हमेशा की तरह बहस करने लग जाती है.

बच्चों की शिक्षा पर पड़ रहा इसका असर (image source : youtube)

यह मामला इतना बड़ा इसलिए बन गया क्योंकि रिपोर्ट्स के मुताबिक राजस्थान में शिक्षा का स्तर गिरता ही जा रहा है. जहाँ एक तरफ शिक्षा अधिकारी और सरकार कुछ नहीं कर पा रहे. वहीं दूसरी ओर वहीं इस समस्या को लेकर बाकी लोगों पर कोई असर ही नहीं हो रहा इसलिए ये काफी जरूरी है कि स्कूल में इस तरह की गलती को माफ़ ना किया जाए बल्कि इसे रोकने की पूरी कोशिश करनी चाहिए नहीं तो बच्चों का भविष्य खराब हो जाएगा.

देखें वीडियो : 

Top