You are here

बड़ी खुशखबरी मोदी सरकार की इस नई स्कीम से हर कोई उठा सकता है 60 हजार तक का लाभ

आजकल के समय में 250-300 रुपए खर्च हो जाना आम बात है,क्योंकि हर चीज इतनी ज्यादा महेगी हो गई है कि हम इतने रूपये तो मूवी देखने जाएं या रेस्टोरेंट में लंच या डिनर के लिए जाएं तो आराम से इससे ज्यादा खर्च हो जाते हैं. वहीं अगर हम आपको बोले कि एक महीने में केवल 1 फिल्म की टिकट या एक बार रेस्टोरेंट का खर्च बचाकर सरकार की एक खास स्कीम में लगा दें, तो आप अपना भविष्‍य अच्छा बना सकते हैं. साथ ही आजीवन आपको इनकम का एक अच्छा जरिया मिल सकता है.

आज आपको मोदी सरकार द्वारा एलान की गई एक नई स्कीम के बारे में बताने जा रहे है. जहां आपको केवल  250 रुपए हर महीने जमा करने है. बता दें कि इस स्किम के ंमुताबिक आपको आगे चलकर आजीवन यानी जब तक जिंदा रहेगे, तब-तक हर साल 60 हजार रुपये सरकार आपको देती रहेगी. तो आइए आपको आगे बताते है कि आप कैसे इस स्किम का लाभ उठा सकेंगे.

किस उम्र के लोग जुड़ सकते हैं इस स्कीम के साथ

इस दुनिया में ज्यादातर लोग है जो अपनी करियर की शुरूआत 20 की साल उम्र से कर देते है. वहीं बहुत से लोग 20 साल से कुछ ज्यादा उम्र में अपना करियर शुरू करते हैं. आपको बता दें कि इस स्किम का लाभ उठाने के लिए आपकी उम्र 18 साल से 40 साल के बीच होनी चाहिए. केवल वो देश का नागरिक होना चाहिए, साथ ही इसमें बिना नौकरी वाले भी शामिल हो सकते हैं, नौकरीपेशा भी हो सकते हैं और कारोबार करने वाला  भी हो सकता है.

इस योजना का उठाएं लाभ

हम जिस योजना के बारे में बात कर रहे है वो अटल पेंशन योजना है. इस योजना से जुड़ने के लिए आपके पास बैंक में एक बचत खाता और आधार कार्ड होना जरूरी है. बता दें कि इसमें योगदान करने की कम सिमा  20 साल है. वहीं अगर आप कम उम्र में योजना से जुड़ते हैं तो आपको ज्यादा लाभ मिलेगा.

कम उम्र में जुड़ने का फायदा

आपको बता दें कि अगर आप 20 साल की उम्र में इस योजना से जुड़ते हैं तो आप के लिए निवेश की सीमा 50 रुपए से 248 रुपए प्रति माह होगी. अगर आप स्किम के तहत हर महीने 248 रुपए जमा करेंगे तो एक समय के बाद उन्हें तब-तक हर साल 60 हजार रुपए मिलेंगे जब-तक वो जिंदा रहेंगे. वहीं अगर आप 18 साल की उम्र में इस स्किम से जुड़ेंगे तो आपको केवल 210 रूपय हर महीने देने पर ये लोभ उठ सकेंगे.

कब तक करना होगा निवेश

इस स्किम के तहत कम से कम 20 साल हर महीने निवेश करना जरूरी है. अगर कोई व्यक्ति 40 साल की उम्र में शुरू करेंगे तो उन्हें 20 साल तक निवेश करना होगा. वहीं, अगर इस योजना के साथ 18 साल की उम्र में जुड़ें तो 42 साल तक आपको निवेश करना होगा.बता दें कि जो कम उम्र में निवेश शुरू करेंगे, उन्हें ज्यादा फायदा होगा.

 मृत्यु होने के बाद

https://www.pfrda.org.in/ के अनुसार दी गई जानकारी में ये बताया गया है कि इस योजना के तहत निवेश करने वाले की अगर मृत्यु हो जाए तो उसके पति या पत्नी अकाउंट में योगदान जारी रखकर योजना का लाभ उठा सकते हैं. साथ ही दूसरे तरीका ये है कि मृत्यु होने पर पत्नी या पति एक मुश्‍त 8.5 लाख रुपए पा सकेंगे. वहीं अगर दोनों की मृत्यु हो जाती हैं तो ये रकम किसी अन्य नॉमिनी को मिलेगी.

Top